close this ads

Gurudwara Shri Guru Singh Sabha

Updated: Nov 10, 2016 22:53 PM
About | Timing | Photo Gallery | Map
गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा (Gurudwara Shri Guru Singh Sabha) - B Block, New Moti Nagar, New Delhi - 110015
गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा (Punjabi: ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਸ੍ਰੀ ਗੁਰੂ ਸਿੰਘ ਸਭਾ, English: Gurudwara Shri Guru Singh Sabha) near Moti Nagar metro station along with Shri Durga Mata Mandir.

Information

Timing
5:00 AM - 9:00 PM
Event / Festival
Basic Services
Drinking Water, Prasad, Langar, CCTV Security, Shoe Store
Address
B Block, New Moti Nagar, New Delhi - 110015
Photography
Yes (It's not ethical to capture photograph inside the temple when someone engaged in worship! Please also follow temple`s Rules and Tips.)
Coordinates
28.663872°N, 77.142811°E
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan

Photo Gallery

Photo in Full View
Main Gate Shikhar
Main Gate Shikhar
Front Gate Balcony
Front Gate Balcony
One more view of Main Shikhar
One more view of Main Shikhar
Shri Durga Mata Mandir and Sanatan Dharm Mandir with Gurudwara
Shri Durga Mata Mandir and Sanatan Dharm Mandir with Gurudwara
Beautiful view of Gurdwara
Beautiful view of Gurdwara
Gurudwara with Mata Temple
Gurudwara with Mata Temple
A Full Front View of Gurudwara
A Full Front View of Gurudwara

Gurudwara Shri Guru Singh Sabha on Map

http://npsin.in/mandir/shri-guru-singh-sabha-moti-nagar
Shri Krishna Pranami MandirShri Krishna Pranami Mandir
A center of Nijanand Sampraday श्री कृष्ण प्रणामी मंदिर (Shri Krishna Pranami Mandir), Rohini Delhi. A golden history of 3060 kanya vivah, 30k free polio upchar and organized 33 Gaushala.
पत्तल में खाने के महत्व
» पलाश के पत्तल में भोजन करने से स्वर्ण के बर्तन में भोजन करने का पुण्य व आरोग्य मिलता है।
» केले के पत्तल में भोजन करने से चांदी के बर्तन में भोजन करने का पुण्य व आरोग्य मिलता है।
मटके के पानी के फायदे!
» इस पानी को पीने से थकान दूर होती है।
» इसे पीने से पेट में भारीपन की समस्या भी नहीं होती।
» मटके की मिट्टी कीटाणुनाशक होती है जो पानी में से दूषित पदार्थो को साफ करने का काम करती है।
हाथ-पैरों में आने वाले ‪पसीने‬ का उपचार
आँवला चूर्ण एवं पिसी हुई मिश्री बराबर मात्रा मे मिलाकर प्रतिदिन सुवह - शाम 1-1 चम्मच सेवन करने से कुछ समय मे ही, हाथ की हथेली और पैरों के तलवों से आने वाले पसीने की समस्या मे लाभ मिलता है...
गर्मियों में हाथ पैरों में अकड़ाहट
इसलिए प्याज के रस को गुनगुना करके हथेलियों और पैर के तलवों की मालिश करने से अकड़ाहट मे लाभ मिलता है...
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top