close this ads

ब्रजभूमि के प्रसिद्ध मंदिर

ब्रजभूमि (Brajbhoomi) or ब्रिजभूमि (Brijbhoomi) is the region related to childhood activities of Lord Krishna. Meaning of Brajbhoomi is a place (Bhoomi) enriched with prosperity of crop and cattles (Braj). Now a days, this region is center of high volume spiritual and cultural activities.
1/9 Sri Sri Krishna Balaram Mandir @Bhaktivedanta Swami Marg Raman Reti, Vrindavan Mathura Uttar Pradesh - 281121 Sri Sri Krishna Balaram Mandir
A holy place श्री श्री कृष्ण बलराम मंदिर (Sri Sri Krishna Balaram Mandir) having 24 hour kirtana and center of cultural and vedic education, also known as ISKCON Vrindavan.
2/9 Shri Krishna Pranami Paramdham @Gaushala Nagar, Vrindavan Mathura, Uttar Pradesh - 281121 Shri Krishna Pranami Paramdham
श्री कृष्ण प्रणामी परमधाम (Shri Krishna Pranami Paramdham) is multi story holy project of Shri Krishna Pranami Jan Kalyan Trust, Bhiwani popularly known as Kanch Ka Mandir (काँच का मंदिर, Glass Temple).
3/9 Shri Radha Madan Mohan Mandir @Bankebihari Colony, Vrindavan Mathura, Uttar Pradesh - 281121 Shri Radha Madan Mohan Mandir
श्री राधा मदन मोहन मंदिर (Shri Radha Madan Mohan Mandir) is one of the oldest temple in Vrindavan with main deity as Madana Mohan, Radha Rani and Shakhi Lalita.
4/9 Shri Yashoda Nand Ji Mandir @Nandgaon, Uttar Pradesh - 281405 Shri Yashoda Nand Ji Mandir
On the top of Nandishwar hill, श्री यशोदा नन्द जी मंदिर (Shri Yashoda Nand Ji Mandir) is dedicated to father and mother of Lord Shri Krishna and Dau Ji.
5/9 Leeladham @Mathura Road Vrindavan, Uttar Pradesh - 281121 Leeladham
To motivate people towards the loving Leelasthli of Shri Krishna a magnificent temple लीलाधाम (Leeladham) was established in Vrindavan. Nine stories, 221 feet high, white marbled temple was inaugurated in 1969 by Srimad Lilanand Thakur(Pagalbaba), therefore also called as Pagalbaba Mandir (पागलबाबा मंदिर).
6/9 Prem Mandir @Raman Reti, Vrindavan District Mathura, Uttar Pradesh - 281121 Prem Mandir
प्रेम मंदिर (Prem Mandir) is a monument of God`s love. This devotional centre will serve all who come in search of God`s love, through knowledge and the practical experience of devotion.
7/9 Shri Radha Rani Mandir @Barsana Mathura, Uttar Pradesh - 281405 Shri Radha Rani Mandir
श्री राधा रानी मंदिर (Shri Radha Rani Mandir) is the first temple of Shrimati Radha Rani `the godess of Love` on the top of Bhanugarh hills. Barsana is her birth place, people call her Ladliji and Shriji therefore also known as Shriji Temple or Laadli Sarkar Mahal.
8/9 Sri Rangji Mandir @Goda Vihar, Vrindavan Mathura, Uttar Pradesh - 281121 Sri Rangji Mandir
श्री रंगजी मंदिर (Sri Rangji Mandir) inspiration architecture of Sri Varadaraja Temple, Kanchipuram. The mix efforts of south and north Indian temple architecture.
9/9 Shri Krishna Janmabhoomi @Janam Bhumi Mathura, Uttar Pradesh - 281001 Shri Krishna Janmabhoomi
श्री कृष्ण जन्मभूमि (Shri Krishna Janmabhoomi) is birth place Lord Shri Krishna, a prison house of the king Kansa.
- npsin.in
If you love this article please like, share or comment!
विविध: आर्य समाज के नियम
ईश्वर सच्चिदानंदस्वरूप, निराकार, सर्वशक्तिमान, न्यायकारी, दयालु, अजन्मा, अनंत, निर्विकार, अनादि, अनुपम, सर्वाधार, सर्वेश्वर, सर्वव्यापक, सर्वांतर्यामी, अजर, अमर, अभय, नित्य, पवित्र और सृष्टिकर्ता है, उसी की उपासना करने योग्य है।
प्रेरक कथा: नारायण नाम की महिमा!
संत जन आशीर्वाद देकर चले गए। समय बीता उसके पुत्र हुआ। नाम रखा नारायण। अजामिल अपने नारायण पुत्र में बहुत आशक्त था। अजामिल ने अपना सम्पूर्ण हृदय अपने बच्चे नारायण को सौंप दिया था।
आरती: श्री बाल कृष्ण जी
आरती बाल कृष्ण की कीजै, अपना जन्म सफल कर लीजै।
श्री यशोदा का परम दुलारा, बाबा के अँखियन का तारा।...
भोग आरती: आओ भोग लगाओ प्यारे मोहन…
आओ भोग लगाओ प्यारे मोहन…
भिलनी के बैर सुदामा के तंडुल, रूचि रूचि भोग लगाओ प्यारे मोहन…
आरती: कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥
आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥
गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला।...
मंत्र: श्री विष्णुसहस्रनाम पाठ
भगवान श्री विष्णु के 1000 नाम! विष्णुसहस्रनाम का पाठ करने वाले व्यक्ति को यश, सुख, ऐश्वर्य, संपन्नता, सफलता, आरोग्य एवं सौभाग्य प्राप्त होता है, एवं मनोकामनाओं की पूर्ति होती है।
भजन: आजा.. नंद के दुलारे हो..हो..
आजा.. नंद के दुलारे हो..हो.., रोवे अकेली मीरा..आ..
आजा.. नंद के दुलारे हो..हो.., रोवे अकेली मीरा..आ..
भजन: श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम!
श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम, लोग करें मीरा को यूँ ही बदनाम
साँवरे की बंसी को बजने से काम, राधा का भी श्याम वोतो मीरा का भी श्याम
भजन: वो काला एक बांसुरी वाला..
वो काला एक बांसुरी वाला, सुध बिसरा गया मोरी रे।
माखन चोर वो नंदकिशोर जो, कर गयो मन की चोरी रे॥
भजन: प्रबल प्रेम के पाले पड़ के, प्रभु का नियम बदलते देखा।
प्रबल प्रेम के पाले पड़ के, प्रभु का नियम बदलते देखा।
अपना मान भले टल जाए, भक्त का मान न टलते देखा॥
Arya Samaj MandirArya Samaj Mandir
आर्य समाज मंदिर (Arya Samaj Mandir), punjabi Bagh is the center of vedic culture and Swami Dayanand Saraswati`s thoughts.
Bachpan to Reebok
पढ़-लिख कर हमने कार खरीदी :(
और वो...
अनपढ़ रह कर भी पेड़ लगाने चल दिए!!
मसखरी - Maskhari
चाइनीज सामानों का बहिष्कार तो बायें हाथ का खेल है,
कुछ देशभक्तों ने तो मिठाई तक खाना छोड़ दिया... क्योंकि वो चीनी से बना होता हैl
Kavi Vinod Pandey Ki Kalam - 2017
खा रहें हैं जो टमाटर आजकल,दायरे में टैक्स के वो आएँगे
पी रहे हैं जो टमाटर जूस उनके, घर पे छापे जल्द मारे जायेंगे...
घुरपेँच - Ghurpainch
Q: ऑफ़स मे आपका ईशान कोण किस दिशा मे है?
A: जिस दिशा मे आपके बॉस की सीट हो, वही आपकी उत्तम दिशा है ;)
दिल्ली एन.सी.आर. में भारी वर्षा
दिल्ली मे बारिश हुई नही और टीवी, इंटरनेट, मोबाइल और रोड नेटवर्क सब जाम से जाम छलकाते मिलेंगे :)
सेल्फी लेना हो सकता है आपके लिए खतरनाक!!
Caused by overusing the muscles attached to your elbow and wrist. Taking too many photos of yourself can result in selfie elbow, latest injury related to tech equipment...
कौन सी धातु के बर्तन में भोजन करने से क्या लाभ और हानि?
कौन सी धातु के बर्तन में भोजन करने से क्या क्या लाभ और हानि होती है
सोना एक गर्म धातु है। सोने से बने पात्र में भोजन बनाने और करने से शरीर के आन्तरिक और बाहरी दोनों हिस्से कठोर, बलवान, ताकतवर और मजबूत बनते है और साथ साथ सोना आँखों की रौशनी बढ़ता है।
Yoga is India`s Gift to the World
Sadhguru speaks at the United Nations General Assembly on International Day of Yoga 2016, about yoga being India's gift to the world, and how it is a science of inner wellbeing.
ज्ञान मुद्रा
भारतीय संस्कृति में सबसे ज्यादा ज्ञान मुद्रा को प्राथमिकता दी जाती है। जिस कारण ही हमारे पूर्वज और ऋषिओं को सर्वज्ञ ज्ञान था। प्राचीनकाल में हमारे ऋषि महापुरुष वर्षों ज्ञान मुद्रा में बैठ कर ध्यान किया करते थे जिस कारन उनका ज्ञान सर्वत्र पूजनीय है...
प्राण मुद्रा
बचपन से ही चश्मा का लगना, प्राणशक्ति को बढ़ाना और शारीर को निरोग रखना प्राण मुद्रा इसके लिए रामवाण का कम करती है..
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top